लखीमपुर खीरी के बाद बदायूं में किशोरी की रेप के बाद हत्या, पुलिस की कार्यशैली पर उठे सवाल

रेलवे स्टेशन के पीछे जंगल में मिली किशोरी की लाश

 
BADAUN

  • रिपोर्टः इंतजार हुसैन

बदायूं। लखीमपुर खीरी के बाद जनपद बदायूं में रेप के बाद हत्या का मामला सामने आया है। फैजगंज बेहटा इलाके के आसफपुर रेलवे स्टेशन के पीछे जंगल में नाबालिग दलित किशोरी का शव पड़ा मिला। परिजनों ने रेप के बाद हत्या की आशंका व्यक्त की। वही परिजनों का आरोप है कि बेटी का शव देखने तक नहीं दिया उससे पहले ही शव बदायूं जिला मुख्यालय भेज दिया।

दरअसल थाना फैजगंज बेहटा इलाके के एक गांव निवासी किशोरी शुक्रवार देर शाम से लापता थी। वो अपनी मां के साथ बाजार आई थी, लेकिन किसी तरह वह बाजार में ही छूट गई थी। किशोरी मानसिक रूप से कमजोर थी और आसपास में घूमती रहती थी, लेकिन रात में या तो वो खुद घर आ जाती थी। कभी पुलिस या गांव के लोग उसे छोड़ जाते थे। लेकिन शुक्रवार को ऐसा नहीं हुआ। बताते हैं कि उसने शाम के समय रेलवे स्टेशन पर समोसे भी मांग कर खाए थे। इसके बाद क्या हुआ किसी को नहीं पता। लेकिन सुबह जब शव देखा गया तो वह पूरे कपड़े पहने हुए थी, उसके गले पर काटे जाने के निशान लग रहे थे।

बताया जाता है कि पुलिस उस किशोरी के बारे में अच्छे से जानती थी और पहचानती भी थी। लेकिन इसके बाद भी पुलिस ने परिजनों को सूचना देना उचित नहीं समझा और शव को वारदात स्थल से हटवा दिया। इसकी जानकारी जब स्वजन को मिली तो वे भड़क गए। किशोरी की बहन और भाई ने सीधे पुलिस पर लापरवाही के आरोप लगाए। इसके साथ ही दुष्कर्म के बाद हत्या किए जाने की भी आशंका जताई है।

वही इस घटना के बाद एसएसपी डॉक्टर ओपी सिंह ने घटनास्थल का निरीक्षण किया। एसएसपी का कहना है कि डॉक्टरों के पैनल द्वारा शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा और दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल पुलिस गहनता से जांच कर रही है. और फॉरेंसिक टीम भी मौके पर पहुंच गई है। और मामले की जांच में जुट गई।