पूर्व प्रधान की चाकूओं से गोदकर हत्या, इलाके में फैली सनसनी

पुलिस चौके के पास मिला शव, चौकी इंचार्ज सस्पेंड

 
HATYA

रिपोर्टः अर्जुन पंवार

मुजफ्फरनगर। शनिवार की देर शाम पूर्व भूत प्रधान कलीराम कश्यप की परासौली पुलिस चौकी के सामने शिव मंदिर प्रांगण में चाकू से गोदकर निर्मम हत्या के बाद इलाके में सनसनी फैल गई। वही पूर्वभूत प्रधान की निर्मम हत्या चौकी के ठीक सामने मंदिर में होने पर पुलिस की लापरवाही को लेकर परिजनों और ग्रामीणों ने बुढ़ाना-कांधला मार्ग पर जाम लगाकर कार्रवाई की मांग की, घटना पर पहुंचे पुलिस के अधिकारियों ने चौकी इंचार्ज शैलेंद्र सिंह को सस्पेंड करते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज कर मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी।

HATYA

दरअसल... ये पूरा मामला फुगाना थाना इलाके के परासौली बस स्टैंड का है, जहां नीमखेड़ी गांव के पूर्वभूत 65 वर्षीय प्रधान कलीराम कश्यप की परसौली पुलिस चौकी के ठीक सामने प्राचीन शिव मंदिर के प्रांगण में पूजा करते समय चाकू से गोदकर अज्ञात हमलावरों ने निर्मम हत्या कर इलाके में सनसनी फैला दी, वहीं पूर्वभूत प्रधान की शनिवार की देर शाम मंदिर में की गई निर्मम हत्या की जानकारी जैसे ग्रामीणों को मिली तो ग्रामीणों ने बुढ़ाना-कांधला मार्ग पर पुलिस की लापरवाही को लेकर जाम लगा दिया और आरोपियों के साथ-साथ पुलिस पर कार्यवाई की मांग शुरू कर दी, वहीं पुलिस चौकी के ठीक 10 कदमों की दूरी पर हुई घटना से पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया और आनन-फानन में मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारियों ने परासौली चौकी इंचार्ज शैलेंद्र सिंह को सस्पेंड करते हुए, गुस्साए लोगों को शांत कर घटना का जल्द से जल्द खुलासा करने का आश्वासन देकर जाम को खुलवाया और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज कर मामले की बारीकी से जांच शुरू कर दी।

HATYA

आपको बता दें मृतक पूर्व भूत प्रधान कलीराम कश्यप नीमखेड़ी गांव के तीन बार प्रधान रह चुके हैं जो अब परसौली बस स्टैंड पर बांस बल्लियों की दुकान करते थे, बहराल पुलिस चौकी के ठीक सामने मंदिर प्रांगण में कलीराम कश्यप की निर्मम हत्या हो जाना पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान खड़ा करता है, लेकिन इस मामले में एसपी देहात अतुल श्रीवास्तव की माने तो इस घटना का खुलासा करने के लिए तीन टीमें गठित कर दी गई है।