मुजफ्फरनगर में फेरो पर पहुंचते ही बंधक बनाई बारात, दुल्हन पक्ष ने विवाह करने से किया इनकार, रही ये वजह

दूल्हे पक्ष को देना होगा सामान और शादी का खर्च

 
मुजफ्फरनगर बारात बंधक

  • रिपोर्टः गोपी सैनी

मुजफ्फरनगर। थाना मंसूरपुर इलाके के गांव पुरबालियान में उस समय हंगामा खड़ा हो गया। जब एक शादी समारोह में शादी की रस्म से पहले दूल्हे और दुल्हन का गोत्र एक होने का पता चल गया। गोत्र होने के कारण दुल्हन पक्ष ने 12 लोगों को बंधक बना लिया और हंगामा शुरू कर दिया मामले की जानकारी पुलिस को दी गई तो पुलिस भी मौके पर पहुंच गई जिसके बाद दोनों पक्षों को समझा-बुझाकर मामला शांत कराया गया।

दरअसल थाना चरथावल इलाके के गांव कंहाहेड़ी से एक बारात थाना मंसूरपुर के गांव पुरबालियान में आई थी। जिसमें शादी समारोह हंसी खुशी के साथ चल रहा था। बताया जाता है कि दूल्हा जब फेरो की रश्म पर पहुंचा तो पंडित ने रस्म से पहले दूल्हे का गोत्र पूछ लिया। जो दुल्हन के गोत्र का ही निकला। जिसके बाद मामला सगोत्र का होने की वजह से हंगामा खड़ा हो गया। दुल्हन पक्ष के सैकड़ों लोग इकट्ठा हो गए और विवाह करने से मना कर दिया। जिसके बाद दुल्हन पक्ष के लोगों ने दूल्हा पक्ष पर गोत्र छुपाने का आरोप लगाते हुए बारात को बंधक बना लिया। दुल्हन पक्ष का कहना था कि जानबूझकर दूल्हा पक्ष ने गोत्र छिपाकर शादी करने का प्रयास किया है तो काफी देर तक हंगामा होता रहा इस बीच कुछ लोगों ने बीच-बचाव का प्रयास किया लेकिन बात नहीं बनी।

वहीं इस दौरान किसी ने पुलिस को जानकारी दी। एसओ मंसूरपुर सुशील कुमार सैनी मौके पर पहुंचे। पुलिस की मौजूदगी में दोनों पक्षों की पंचायत बैठ गई। दुल्हन पक्ष ने सगोत्र में विवाह करने से इनकार कर दिया। शादी में दिए सामान और आवभगत में किए खर्च दिलाने की मांग रखी। देर रात सात लाख रुपये देने की बात पर सहमति बनी।