सावधान! माया पैलेस में फिल्म देखने वालों का ऐसे भरा जाता है 'इलाज'

माया टॉकिज के मालिक पर मारपीट और लूटपाट कर आरोप, टॉकीज मालिक ने सिरे से नकारे सभी आरोप
 
maya talkies_mzn

मुजफ्फरनगर। केजीएफ-2 (KGF-2) मूवी देखने गए तीन दोस्तों को माया टॉकिज (Maya Talkies) मालिक के इशारे पर बुरी तरह से पीटा गया। तीनों दोस्तों का केवल इतना सा गुनाह था कि वो ऑनलाइन (Online) टिकट बुक (Ticket Booking) कराकर फिल्म देखने पहुंचे थे, लेकिन सिनेमा (Cinema) मालिक ने उन्हें हाउसफुल बताते हुए एक्ट्रा पैसे देने का कहा, जिसका उन्होंने विरोध किया तो उन्हें सीसीटीवी कैमरों (CCTV Camera) से दूर ले जाकर बुरी तरह से पीटा गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने तीनों को बामुश्किल आरोपियों के चंगुल से छुड़ाया और अस्पताल पहुंचाया। पीड़ितों ने सिनेमाघर मालिक के खिलाफ तहरीर देकर पुलिस से कार्रवाई की मांग की है।

kgf

सिविल लाइन थाना इलाके की काशीराम आवास कॉलोनी (Kashiram Awas Colony) निवासी आदित्य पुत्र राधेश्याम ने 15 अप्रैल को रात 10 बजे का केजीएफ-2 (KGF-2 Movie) के 3 टिकट बुक कराए थे। आदित्य अपने दो अन्य दोस्तों प्रिंस और विकास निवासीगण रामपुरी के साथ रूड़की रोड स्थित माया टॉकीज़ पर पहुंचा, लेकिन तीनों को एंट्री गेट पर ही रोक लिया गया और ऑनलाइन बुक कराए गए टिकट दिखाने के बाद भी उन्हें अंदर दाखिल नहीं होने दिया गया। पीड़ितों की माने तो उसी दौरान टॉकिज का मालिक प्रणव गर्ग वहां पहुंचा और तीनों दोस्तों को बताया कि हाउस फुल हो चुका है। अगर वो लोग एक्ट्रा पैसे देंगे तो उन्हें एंट्री मिल जाएगी। इसका विरोध करने पर प्रणव गर्ग के बाउंसर मारपीट पर आमादा हो गए।

Maya Talkies_01

कैमरों से दूर ले जाकर भरो इलाज

पीड़ितों की माने तो आरोपी माया टॉकीज मालिक ने अपने बाउंसरों को इशारा किया कि ये लोग ऐसे नहीं मानेंगे। इन्हें सीसीटीवी कैमरों से दूर ले जाआ और इनका अच्छे से इलाज भर दो। पीड़ित आदित्य के मुताबिक माया टॉकीज के मालिक प्रणव गर्ग के इशारे पर उसके बाउंसर उन्हें सीसीटीवी कैमरों से दूर ले गए और उनकी धारदार हथियारों के बल पर सरियों और रॉड से बुरी तरह से पिटाई की। लेकिन इसी बीच वो लोग डायल 112 को कोल कर चुके थे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने ही तीनों को प्रणव गर्ग के बाउंसर्स से बचाया और अस्पताल पहुंचाया।

प्रणव गर्ग के खिलाफ लिखित में शिकायत

पीड़ितों ने पूरे मामले की लिखित में शिकायत करते हुए पुलिस से माया टॉकीज के मालिक प्रणव गर्ग के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। नगर कोतवाली थाने में दी गई तहरीर में आदित्य के अलावा उसके दोनों दोस्तों प्रिंस और विकास ने भी बाकायदा हस्ताक्षर कर प्रणव गर्ग के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की मांग की है।

Maya Talkies_01

सोने की चेन और 10 हजार रुपये भी गायब!

कोतवाली में दी गई लिखित तहरीर में आदित्य ने ये भी आरोप लगाया है कि मारपीट के दौरान उसकी जेब से 10 हजार रुपये और प्रिंस के गले से सोने की चेन भी गायब हो गई।

'कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता'

आदित्य का ये भी आरोप है कि माया टॉकीज के मालिक प्रणव गर्ग ने उन्हें ये भी धमकी दी थी कि उसकी बहुत जान-पहचान है। तुम हमारा कुछ नहीं बिगाड़ सकते। तुम्हे जहां जाना है वहां जाओ और जिससे शिकायत करनी है, उससे शिकायत कर लो।

Maya Talkies_01

प्रणव गर्ग ने आरोपों को सिरे से नकारा

समाचार टुडे के प्रधान संपादक अमित सैनी ने इस बाबत माया टॉकीज के मालिक प्रणव गर्ग से उनका पक्ष जानना चाहा तो उन्होंने बताया कि लगाए जा रहे सभी आरोप बेबुनियाद है। असल में ये सब लोग शराब के नशे में धुत थे और गुटखा-पुड़िया आदि अंदर ले जाने की कोशिश कर रहे थे, जिस पर उन्होंने गेट कीपर गुड्डू द्वारा रोका गया तो आरोपियों ने उसके साथ बुरी तरह से मारपीट शुरू कर दी। प्रणव गर्ग ने ये भी बताया कि एक बार तो ये लोग चले गए थे, लेकिन फिर से उन्होंने अपने साथियों को बुलाकर दोबारा से हमला कर दिया। इतना ही नहीं प्रणव गर्ग ने ये भी दावा किया कि पुलिस इन लड़कों ने नहीं, बल्कि खुद उनके स्टाफ ने बुलाई थी और इनका भविष्य खराब ना हो, ये सोचते हुए माफी-तलाफी के बाद इन्हें छोड़ दिया गया था, लेकिन अब ये लोग उन्हें बदनाम करने की नीयत से ये सब प्रपंच रच रहे हैं। प्रणव गर्ग का ये भी दावा है कि जिस वक्त ये पूरा मामला हुआ, वो मौके पर मौजूद ही नहीं थे।

गुड्डू का हुआ मेडिकल, दी जाएगी तहरीर

प्रणव गर्ग ने जानकारी देते हुए बताया कि आरोपियों द्वारा की गई मारपीट में गुड्डू बुरी तरह से घायल हो गया था, जिसका मेडिकल कराया जा रहा है और उसके बाद आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई कराए जाने को लेकर तहरीर दी जाएगी। उन्होंने ये भी बताया कि जब ये लड़के वहां से गए थे तो बिल्कुल ठीक थे, जिसकी वीडियो भी उनके पास मौजूद है और इस बात का भी सबूत है कि वो घटना के दौरान मौके पर नहीं, बल्कि अपने ऑफिस में मौजूद थे।

माया में अक्सर होता रहता है विवाद
सच्चाई भले ही कुछ भी हो, लेकिन माया पैलेस यानि माया टॉकिज अथवा माया मल्टीप्लेक्स में ये कोई पहला मामला नहीं है, जब विवाद हुआ हो। इससे पहले भी कई बार धमकी, मारपीट और बदमीजी को लेकर माया थियेटर सुर्खियों में रह चुका है। हाल ही में कश्मीर फाइल्स मूवी को लेकर भी विवाद खड़ा हो गया था। उस दौरान भी पुलिस को मध्यस्था करानी पड़ी थी। कुछ लोग यूपी में कश्मीर फाइल्स के टैक्स फ्री होना बता रहे थे तो वहीं थियेटर मालिकान इस बात से नकारते हुए कह रहे थे कि उनके पास अभी कोई आदेश नहीं आया है। इसी बात को लेकर दोनों पक्षों के बीच काफी गहमा-गहमी हुई थी। हालांकि पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों पक्षों को समझा-बुझाकर शांत कर दिया था।

बेहद रूड है प्रणव का 'बिहेवियर'!
इस मामले से इतर प्रणव गर्ग हमेशा रूड बिहेवियर को लेकर चर्चाओं में रहते है, जिसको लेकर वो हमेशा लोगों के निशाने पर रहते है। उनके व्यवहार को लेकर कई मीडिया कर्मियों की भी अक्सर ये ही शिकायत रहती है कि वो किसी के साथ भी सही से बात नहीं करते। ये बात कहीं ना कहीं इस बात से भी साबित होती है कि अक्सर माया पैलेस में ही मारपीट और दबंगई की खबरे सामने आती है, जबकि मुजफ्फरनगर में और भी सिनेमाघर है, वहां पर ऐसी घटनाएं ना के ही बराबर घटित होती है। कहीं ना कहीं ये मामले भी इस तरफ इंगित करते है कि कहीं ना कहीं दर्शकों से सही से बातचीत ना करने और उन्हें दबंगई दिखाने पर भी अक्सर मामला बिग़ड़ जाता होगा।