शामलीः छेड़छाड़ और मारपीट के मामले में इंसाफ के लिए भटक रही महिला

महिला ने आरोपी पर लगाया मुकदमा वापस लेने का दबाव बनाने का आरोप

 
शामली

  • रिपोर्टः पंकज उपाध्याय

शामली। थानाभवन में छेड़छाड़ एवं मारपीट करने के मामले में 24 दिन बाद भी महिला इंसाफ के लिए पुलिस अधिकारियों के दफ्तरों के चक्कर लगा रही है। महिला ने एक बार फिर थानाभवन कोतवाली पहुंचकर इंसाफ की गुहार लगाई है। महिला का आरोप है कि आरोपी उसके परिवार एवं उसके ऊपर मुकदमा वापस लेने का दबाव बना रहे हैं।

मामला थानाभवन इलाके के एक गांव का है। गांव निवासी महिला ने थाने पर प्रार्थना पत्र देते हुए बताया था कि गांव में बाहरी आबादी में उसकी जमीन है। जमीन को जबरदस्ती लेने के लिए 5 लोगों ने मिलकर उसके और उसके परिवार के साथ मारपीट की। महिला ने आरोप लगाया था कि मारपीट के साथ साथ मसावि निवासी पूर्व महिला प्रधान के बेटे रहीम ने अपने साथियों के साथ मिलकर उससे छेड़छाड़ की और जान से मारने की धमकी दी थी। पुलिस ने मामले में 5 लोगों के खिलाफ 22 अगस्त को नामजद मुकदमा दर्ज किया था। अब महिला ने आरोप लगाया कि मुकदमे के लगभग एक माह बीत जाने के बाद भी पुलिस ने आरोपियों की कोई गिरफ्तारी नहीं की। जबकि उसका कोर्ट में बयान भी दर्ज हो गया था।

पीड़ित महिला ने पूर्व महिला प्रधान के बेटे पर मुकदमा वापस लेने का दबाव बनाने और उसे धमकाने का आरोप लगाया है। महिला का कहना है कि उसे अभी तक न्याय नहीं मिला है। आरपी अभी भी खुले आम घूम रहे है।