बीजेपी नेताओं पर चली लाठियां, विवाद में किशोर पर जलती लकड़ी से हमला

आरोपियों पर कार्रवाई की मांग को लेकर धरने पर बैठे बीजेपी कार्यकर्ता

 
फाइल फोटो
  • रिपोर्टः सुधीर गोयल

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद के थाना मझोला पुलिस ने एनएच 24 पर बनी  पाश कालोनी में नए साल की पार्टी के दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं में विवाद हो गया। छेड़छाड़ को लेकर शुरू हुए ­झगड़े में आग से जलती लकड़ी उठाकर किशोर पर हमला कर दिया। विवाद को बढ़ता देख आस-पास के लोगों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने बीजेपी नेताओं पर लाठीचार्ज कर दिया। जिससे 2 कार्यकर्ता जख्मी हो गए। विवाद को दौरान भारतीय जनता युवा मोर्चा के नगर महामंत्री के हाथ में फ्रेक्चर हो गया है। अध्यक्ष की भी नाक पर गंभीर चोट लगी है।

धरना

पाश कॉलोनी ग्रीन अर्चित  में बीती रात नए साल का स्वागत करने के लिए पार्टी की गई थी। आरोप है कि पार्टी में नरेश यादव का बेटा निकील नहीं यादव आ गया और छेड़छाड़ की। विरोध करने पर वे मारपीट पर उतर गए। उसने साथियों को बुलाकर लक्ष्य पर हमला बोल दिया। 14 वर्षीय लक्ष्य को आग में जलती लकड़ी निकालकर पीटा गया। पार्टी में शामिल बीजेपी कार्यकर्ता के महामंत्री अभिषेक राठौर का वीडियो बनाने लगे। लोगों ने महानगर अध्यक्ष अभिषेक चौबे को बुला लिया। अभिषेक ने बताया कि उन्होंने मझोला  पुलिस को घटना की जानकारी दी थी। उन्होंने आरोप लगाया कि आरोपियों ने पुलिस के सामने उनपर हमला बोल दिया और लक्ष्य को वाहन में बैठाकर थाने ले जाने लगे। उन्होंने विरोध किया तो पुलिस ने लाठी-डंडे से मारपीट शुरू कर दी। पुलिस ने वीडियो बना रहे राठौर पर भी हमला किया। पुलिस लाठीचार्ज की पिटाई से राठौर और हेमंत चौधरी जख्मी हो गए। गौरतलब है कि हंगामे की वीडियो रात से सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है

ये भी पढ़ेः निर्मम हत्या का सीसीटीवी वीडियो आया सामने, बीजेपी ने दिया जेहादी करार

बीजेपी कार्यकर्ताओं के महानगर अध्यक्ष अभिषेक चौबे ने बताया कि देर रात में हुई घटना से उन्होंने रात में पुलिस अफसरों से अवगत दिया था। सुबह थाना प्रभारी मझला से मिलकर लाठीचार्ज करने वाले पुलिस वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने को तहरीर दी थी, लेकिन उन्होंने कोई सुनवाई नहीं की। उन्होंने बताया कि लाठीचार्ज करने में चौकी प्रभारी बालेंद्र यादव सिपाही सचिन कुमार और 2 सिपाही और थे। मुकदमा दर्ज नहीं होने पर बीजेपी नेताओं ने एसएसपी से मुलाकात की और फिर शाम को डीआईजी से भी मिले। उन्होंने आरोप लगाया है कि पुलिस अपने विभाग के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने से बच रही है।

ये भी पढ़ेः बच्चियों की मौत पर बीजेपी विधायक ने केजरीवाल सरकार को घेरा...जाननें के लिए पढ़िए पूरी ख़बर

बीजेपी नेताओं पर लाठी चार्ज करके बुरी तरह पिटाई करने वाले पुलिस वालों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होने से नाराज बीजेपी युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने महानगर बीजेपी कार्यालय पर धरना शुरू कर दिया है। डीआईजी से मुलाकात के बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं ने बेमियादी धरना शुरू कर दिया है। उन्होंने शहर के बीजेपी जनप्रतिनिधियों से सहयोग मांगा है और एलान किया है कि पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई होने तक धरना जारी रहेगा। अपनी ही सरकार में पिटाई और कार्रवाई नहीं होने से कार्यकर्ताओं में रोष देखा गया है। वहीं बीजेपी सरकार में बीजेपी कार्यकर्ताओं के धरना देने से नेताओं में खलबली मच गई है। अब देखना है कि आरोपियों पर कार्रवाई होती है या  नही।