हरियाणवी डांसर सपना चौधरी ने कोर्ट में किया सरेंडर

सरेंडर के बाद सपना चौधरी कस्टडी से रिहा, कोर्ट ने वापस लिया वारंट

 
Sapna Choudhary

लखनऊ। हरियाणवी डांसर सपना चौधरी ने 19 सितंबर को कोर्ट में सरेंडर किया है। जानकारी के अनुसार एसीजेएम कोर्ट ने सपना चौधरी को सरेंडर के उपरांत कस्टडी में ले लिया है। सपना चौधरी के खिलाफ जमानती वारंट जारी किया गया था, जिसके कारण उनको कोर्ट में पेश होना था, लेकिन पिछली 6 तारीख को कोर्ट में पेश होने से पूर्व जज शांतनु त्यागी आपात छुट्टी पर चले गए थे। इसकी वजह से बेंच नहीं बैठी।

दरअसल... 19 सितंबर को एनबीडब्ल्यू के रिकॉल पर सपना चौधरी ने एसीजेएम शांतनु त्यागी की कोर्ट में पेश होकर खुद को खुद को सरेंडर कर दिया, जहां कोर्ट ने डांसर सपना चौधरी को कस्टडी में ले लिया था। लेकिन कुछ ही देर बाद खबर आई कि सपना का वारंट वापस ले लिया गया, सपना को कोर्ट ने कस्टडी से मुक्त कर दिया है। कोर्ट ने सपना चौधरी का वारंट इस शर्त पर खत्म किया कि कोर्ट में वो पेश होकर सहयोग करेंगी, मामले में अगली सुनवाई अब 30 सितंबर को होगी।

दरअसल.. साल 2018 के अक्टूबर में लखनऊ के स्मृति उपवन में सपना चौधरी का कार्यक्रम था। जहां लोगों ने कार्यक्रम को देखने के लिए ऑफलाइन और ऑनलाइन 300 रुपए दिए थे, लेकिन सपना चौधरी उस कार्यक्रम में नहीं पहुंची थीं। इसके बाद लोगों ने हंगामा काटा और फिर मामला कोर्ट में जा पहुंचा, क्योंकि हजारों की तादाद में लोगों ने टिकट को पैसे देकर खरीदा था।

ऐसे में जब सपना चौधरी परफॉर्मेंस के लिए नहीं पहुंची तो लोग नाराज हो गए और हंगामा किया। इसी धोखाधड़ी के मामले में सपना चौधरी को लखनऊ के एसीजेएम कोर्ट में पेश होना था। इस मामले की एफआईआर में शो के ऑर्गेनाइजर जुनैद अहमद, नवीन शर्मा,  इवाद अली, अमित पांडे और रत्नाकर उपाध्याय का नाम भी शामिल था।