मुजफ्फरनगर में आंगनवाड़ी कार्यकत्रियां राष्ट्रीय पोषण माह के प्रति घर-घर जाकर लोगों को करेंगी जागरूक

जिलाधिकारी ने जागरुकता रैली को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

 
MZN

मुजफ्फरनगर। राष्ट्रीय पोषण माह के प्रति लोगों को जागरूक करने और प्रचार प्रसार के लिए आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों ने रैली निकाली। डीएम चन्द्रभूषण सिंह ने हरी झंडी दिखाकर रैली को रवाना किया। समग्र पोषण अभियान के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के निर्देश पर व्यापक योजना शुरू की गई थी। जिला कार्यक्रम अधिकारी राधेश गोंड ने बताया कि 2018 से राष्ट्रीय पोषण माह सितंबर माह में मनाया जाता है।

राष्ट्रीय पोषण माह में बच्चों को पोषित भोजन देने के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है। इसी परिप्रेक्ष्य में डीएम कार्यालय से एक रैली रवाना की गई। इस रैली के माध्यम से सरकार ने बच्चों का स्वास्थ्य बेहतर रखने के लिए भी लोगों को जागररू करने का निर्णय लिया। उन्होंने बताया कि अब तक कुपोषित बच्चों पर ही ध्यान दिया जा रहा था। लेकिन सरकार अब उन बच्चों पर भी ध्यान दे रही है जो स्वस्थ्य हैं। ऐसे बच्चों पर नजर रख उनके स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखने के लिए भी जागरूक किया जा रहा है।

जिलाधिकारी ने बताया कि सितंबर के महीने में प्रतिवर्ष मनाए जाने वाले पोषण अभियान का उद्देश्य मिशन मोड में कुपोषण की चुनौती का समाधान करना भी है। इसी उद्देश्य की पूर्ति के लिए बच्चों को पोषित भोजन देने के प्रति जागरूकता पैदा करने के लिए राष्ट्रीय पोषण माह के तहत आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं ने रैली निकाली। अच्छे पोषण और इसकी महत्वपूर्ण भूमिका का संदेश हर नुक्कड़ और घर तक पहुंचाने के लिए इस माह कई गतिविधियों को अंजाम दिया जा रहा है।

महिला और बाल विकास विभाग के मुताबिक इस अभियान में गहन जागरूकता और शिक्षा गतिविधियों में संवेदनशीलता, आउटरीच प्रोग्राम, पहचान अभियान, शिविर और मेले शामिल किए गए हैं। जिनमें गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं, छह साल से कम उम्र के बच्चों और किशोरों पर, लड़कियों, ‘स्वस्थ भारत’ (स्वस्थ भारत) की दृष्टि को साकार करने के लिए विशेष ध्यान दिया जा रहा है।