मुजफ्फरनगरः नवाजुद्दीन सिद्दीकी के परिवार में पुश्तैनी संपत्ति को लेकर रार

भाइयों ने नवाजुद्दीन सिद्दीकी पर लगाए गंभीर आरोप

 
mzn

मुजफ्फरनगर। फिल्म अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी के परिवार में संपत्ति बंटवारे को लेकर रार पैदा हो गई है। अभिनेता ने बुढाना में अपने छोटे भाई फैजुद्दीन सिद्दीकी के रेस्टोरेंट का उदघाटन किया। जिसके कुछ देर बाद ही उनके दो भाईयों अलमसुद्दीन और अयाजुद्दीन ने मीडिया के सामने आकर नवाजुद्दीन सिद्दीकी पर गंभीर आरोप लगाते हुए पैतृक संपत्ति में से हिस्सा दिलाने की मांग की। अलमसुद्दीन ने पुलिस में फैजुद्दीन सिद्दीकी की शिकायत की।

अलमसुद्दीन ने मीडिया से मुखातिब होते हुए अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी से अपना हिस्सा दिलाने की मांग की। फिल्म अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी के भाई अलमसउद्दीन और अयाजुद्दीन ने कहा कि वे 7 भाई और एक बहन है। जबकि एक बहन की मौत हो चुकी है। उनकी पुश्तैनी संपत्ति में मौखिक या लिखित कोई बंटवारा नहीं हो पाया है। बताया कि कस्बा बुढाना के कांधला रोड पर उस संपत्ति पर निचले तल पर किराए के लिए दुकान बनी हुई है। जबकि ऊपरी तल खुला और खाली पड़ा था। आरोप लगाया कि उसमें उनके भाई फैजुद्दीन सिद्दीकी ने बिना किसी सहमति के रेस्टोरेंट्स खोलने की तैयारी की और खोल भी लिया। जिसका उद्धाटन किया जा रहा है।

अलमसुद्दीन ने कहा कि पैतृक संपत्ति में बराबर का हिस्सेदार होने के कारण उन्हें इस पर आपत्ति है। आरोप लगाया कि उनके भाई पैतृक संपत्ति में अमानत में खयानत करते हुए उसे हड़पना चाहता हैं। अलमसुद्दीन ने पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को भी शिकायती पत्र देकर उदघाटन पर रोक लगाने की मांग की थी। दूसरी ओर फैजुद्दीन सिद्दीकी का कहना है कि उनके भाई अलमसउद्दीन को देहरादून में मकान लेकर दे रखा है। जबकि दूसरे भाई अयाजउद्दीन को कस्बे में ही मकान दे रखा है और उनके हिस्से में जो दुकान आती है उसका उन्हें किराया दे रहे हैं। ये वसीयत में भी लिखा हुआ है।

बता दें कि फिल्म अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने कस्बे के कांधला रोड पर स्थित अपने छोटे भाई फैजुद्दीन सिद्दीकी के रेस्टोरेंट का उदघाटन किया। जिसमें केंद्रीय राज्य मंत्री डॉ. संजीव बालियान, पूर्व विधायक उमेश मलिक, पूर्व जिला पंचायत सदस्य ठाकुर रामनाथ सिंह, राष्ट्रीय निशानेबाज मोनू मलिक समेत क्षेत्र के काफी लोग मौजूद रहे। जिसके कुछ ही देर बाद पुस्तैनी जमीन को लेकर रार खड़ी हो गई।