सीसीटीवी कैमरे से पड़ोसी महिला की निजता भंग

न्याय नहीं मिलने पर पलायन को मजबूर परिवार

 
GYAPAN

  • रिपोर्टः महेश कौशल

पीलीभीत। उत्तर प्रदेश पुलिस अपनी कारगुजारी को लेकर कई बार चर्चा का विषय बनती रही है, लेकिन बाबजूद इसके पुलिसकर्मी सुधरने को तैयार नही है। एक तरफ योगी सरकार पीड़ितों को न्याय के लिए पुलिस को लगातार चेतावनी भले ही दे रही हो लेकिन पुलिस अपना रवैया बदलने को तैयार नही है।

दरअसल... ये पूरा मामला पूरनपुर कोतवाली इलाके के बाजारगंज पिपरिया मझरा का है, जहां चरनजीत नाम के युवक ने अपनी छत की दीवार पर कैमरा लगा रखा है। जिससे पड़ोसी के घर मे छप्पर और पल्ली से बने मकान और बाथरूम में जब महिलाए नहाने जाती है तो cctv में महिलाओं का नग्न अवस्था मे वीडियो कैद हो जाता है, इस बात को लेकर हरवंश ने पहले तो पड़ोसी से शिकायत की और बाद में पुलिस से लेकिन 12 से अधिक बार शिकायत के बाबजूद भी पुलिस ने कोई कार्रवाई नही की। उधर हरवंश का आरोप है कि पूरनपुर कोतवाली में बुधवार को फिर शिकायत की तो कोतवाल सुविधा पैसे की बात करने लगे, फिलहाल पीड़ित ने कहा कि न्याय नहीं मिलने की बजह से या तो वे परिवार के साथ खुद खुशी कर लेगा या फिर मजबूरन गांव से पलायन करेगा जिसकी जिम्मेदार पुलिस होगी ।