सिर पर वार कर कि गई महिला की हत्या, कमरे में पड़ा मिला शव

4 साल से परिवार से अलग रह रही थी मृतक महिला

 
MURDER

गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में नंदग्राम के आश्रम रोड की गली नंबर-6 में शनिवार सुबह घर में पहली मंजिल पर कमरे में आशा देवी का शव मिला है। आशा देवी के सिर पर भारी वस्तु से वार कर उसकी हत्या की गई है। इस हत्या का पता जब चला जब उसी मकान में दूसरी मंजिल पर किराये पर रह रहे परिवार ने पानी भरने के लिए कहा तो आशा देवी की कोई आवाज नहीं आई। ऐसे में किशोरी ने उनके कमरे में जाकर देखा तो आशा का शव लहूलुहान जमीन पर पड़ा था। भूतल पर रहने वाले मुकेश ने पुलिस को इसकी सूचना दी।

दरअसल.... आशा देवी पिछले 8 महीनों से दिल्ली निवासी विपिन शर्मा के मकान में किराये पर रह रही थीं। आशा देवी बुलंदशहर के छतारी के सिद्धगढ़ी गांव की रहने वाली थी। नंदग्राम आश्रम रोड में वो पहली मंजिल पर अकेली रहती थी। भूतल और दूसरी मंजिल पर अन्य 2 परिवार किराये पर रहते हैं। पड़ोस के रहने वाले लोगों ने बताया कि आशा देवी का किसी से कोई संपर्क नहीं था। वो सुबह 9 बजे घर से चली जाती थी और रात को आती थी। आस पड़ोस में रहने वाले लोगों का कहना है कि किसी को नहीं पता वो क्या काम करती थी क्या नही।

भूतल पर रहने वाले मुकेश ने बताया कि रोजाना की तरह शनिवार सुबह पानी भरने के लिए सबमर्सिबल पंप चलाया और आशा देवी को आवाज देकर पानी भरने के लिए कहा। लेकिन काफी देर तक उनका कोई जवाब नहीं आया तो उन्हें शक हुआ कि कुछ गड़बड़ तो नहीं है। उन्होंने ऊपर जाकर देखा तो वो जमीन पर मृत अवस्था में पड़ी मिली। इसके बाद उन्होंने पुलिस को सूचना दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने आशा के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। घटनास्थल पर पुलिस ने डॉग स्क्वायड बुलाकर जांच पड़ताल की है।

नंदग्राम थाना प्रभारी रमेश सिंह सिद्धू ने बताया कि आशा देवी के पति से संपर्क कर उसे सूचना दी गई तो वो गाजियाबाद आए। जानकारी करने पर पता चला कि आशा देवी 4 साल से परिवार से अलग रह रही थी। उसके तीन बच्चे हैं जो गांव में रह रहे हैं। पति ओमपाल ने बताया कि वो परिवार के साथ नहीं रहना चाहती थी। साल-छह महीने में उनकी बात होती थी तो वो कहीं कोठी में घरेलू सहायिका का काम करने की बात कहती थी।

एसपी सिटी निपुण अग्रवाल ने बताया कि घटनास्थल का जायजा लिया है। मौके से साक्ष्य जुटाए गए हैं। महिला के मोबाइल फोन की कॉल डिटेल निकाल कर मामले की जांच की जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।