श्रीराम कॉलेज भारत के 40 सर्वश्रेष्ठ कॉलेजों में हुआ शामिल, नैक ने किया ए++ ग्रेड से प्रमाणित

नैक की टीम ने 2016 में निरीक्षण कर श्री राम कॉलेज को ए' ग्रेड से किया था प्रमाणित

 
श्री राम कॉलेज

  • रिपोर्टः गोपी सैनी

मुजफ्फरनगर। यूं तो श्रीराम कॉलेज का नाम नित्त नई-नई उपलब्धियों के साथ जुड़ रहा है। इस बार एक और ऐसी उपलब्धि श्रीराम कॉलेज के नाम जुड़े जो अभूतपूर्व और ऐतिहासिक है। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के निर्देशानुसार भारत के सभी महाविद्यालयों और विश्वविद्यालयों को राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद से मूल्यांकन करना आवश्यक है। राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद (नैक) विश्वविद्यालय अनुदान आयोग द्वारा गठित एक ऐसा संस्थान है. जो भारत के उच्च शिक्षा संस्थानों का मूल्यांकन और प्रत्यायन का कार्य करती है। इसके द्वारा यह निर्धारित किया जाता है कि कोई भी शैक्षिक संस्थान या विश्वविद्यालय प्रमाणन एजेंसी द्वारा निर्धारित गुणवत्ता के मानकों को किस स्तर तक पूरा कर रहा है। श्री राम कॉलेज मुजफ्फरनगर में प्रथम चरण में वर्ष 2016 में नैक की टीम ने निरीक्षण कर श्री राम कॉलेज को ए' ग्रेड से प्रमाणित किया था।

श्रीराम कॉलेज

वर्ष 2021 में श्रीराम कॉलेज द्वारा द्वितीय चरण के नैक मूल्यांकन के लिए आवेदन किया। आवेदन मूल्यांकन के समस्त चरणों को सफलतापूर्वक पूर्ण करने के बाद श्रीराम कॉलेज में 1, 2 और 3 जून को तीन सदस्यीय मूल्यांकन टीम ने भ्रमण कर निरीक्षण किया। जिसमें चेयरमैन कैलाश चन्द्र शर्मा, मेंबर कॉर्डिनेटर एम यादगिरी, सदस्य अलका गुप्ता शामिल थे।

नैक कार्यालय ने श्रीराम कॉलेज की ग्रेड-शीट जारी करते हुए महाविद्यालय को सातों मापदंडों में उत्कृष्ट पाते हुए 3.56 सीजीपीए के साथ ए++ ग्रेड प्रदान किया। श्रीराम कॉलेज को प्रथम मापदंड पाठ्यचर्या के पहलू में 3 सीजीपीए द्वितीय मापदंड अध्ययन-अध्यापन और मूल्यांकन में 3.65, तृतीय मापदंड शोध नवोन्मेष और विस्तार में 3.09, चतुर्थ मापदंड मूलभूत सुविधाएं के साथ अध्ययन के संसाधन में 391, पंचम मापदंड छात्र सहयोग तथा विकास में 378 षष्टम मापदंड संचालन, नेतृत्व एवं प्रबंधन में 334, और सप्तम मापदंड संस्थानिक मूल्य और सर्वश्रेष्ठ परम्परा में 3.86 सीजीपीए प्राप्त हुआ है। श्रीराम कॉलेज अब न केवल उत्तर प्रदेश बल्कि आस-पास के प्रदेशो में भी एकमात्र ऐसा महाविद्यालय बन गया है जिसे नैक द्वारा ए++ ग्रेड से प्रमाणित किया गया है।

श्री राम कॉलेज

कॉलेज को द्वितीय चक्र में ए++ ग्रेड प्राप्त होने पर श्रीराम ग्रुप ऑफ कॉलेज के चेयरमैन एससी कुलश्रेष्ठ ने खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि हमारे कॉलेज ने द्वितीय चक्र में ए++ ग्रेड प्राप्त कर मुजफ्फरनगर जनपद का ही नहीं बल्कि पूरे उत्तर प्रदेश में भी इतिहास कायम कर अभूतपूर्व उपलब्धि प्राप्त की है। उन्होंने कहा कि हमारा कॉलेज अब संपूर्ण भारत के 40 ऐसे महाविद्यालयों में शामिल हो गया है। जिन्हें नैक द्वारा ए ग्रेड प्राप्त है। उन्होंने कहा कि हमारी इस सफलता में कॉलेज के सभी शिक्षक, गैर शिक्षक, विद्यार्थी पुरातन विद्यार्थी और अभिभावकों का महत्वपूर्ण योगदान रहा है

कुलश्रेष्ठ ने कहा कि इस उपलब्धि में समन्वयक आईक्यूएसी विनीत कुमार शर्मा और उनकी टीम में शामिल रहे संजय कान्त त्यागी, ऋषभ भारद्वाज, वरिष्ठ कार्यालय सहायक आशुतोष कुमार और लैब सहायक राहुल कुमार मनोज पुंडीर दिनेश यादव ने इस उपलब्धि को प्राप्त करने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की है। कुलश्रेष्ट ने कहा कि इसी प्रकार आगे भी बेहतर शिक्षा प्रदान करने के संकल्प को मूर्त रूप देते हुए मिलकर कार्य करते रहेंगे।

श्रीराम कॉलेज

एससी कुलश्रेष्ठ ने कहा कि श्रीराम कॉलेज का समस्त स्टाफ आगे भी एक परिवार की तरह कार्य करते हुए कॉलेज को नित नई ऊंचाइयों और उपलब्धियों को प्राप्त करने के लिए परिश्रम करता रहेगा। महाविद्यालय की इस उपलब्धि पर श्रीराम कॉलेज की प्राचार्य प्रेरणा मित्तल ने कहा कि महाविद्यालय में पिछले कई वर्षों से गुणवत्ता परख, सतत अधिकाधिक अवस्थापना सुविधाओं का विस्तार उत्कृष्ट शैक्षिक और विद्यार्थी केंद्रित शिक्षण अधिगम प्रक्रियाओं के साथ विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास के लिए विभिन्न गतिविधियों का संपन्न होना इस उपलब्धि के आधार बिंदु रहे है। मित्तल द्वारा इस उपलब्धि पर हर्ष व्यक्त करते हुए संपूर्ण श्री राम परिवार को बधाई दी।

महाविद्यालय की आंतरिक गुणवत्ता सुनिश्चयन प्रकोष्ठ के प्रभारी विनीत कुमार शर्मा ने कहा कि नैक द्वारा किसी भी संस्थान को ए++ ग्रेड प्रदान करना अपने आप में ही ये प्रदर्शित करता है. कि ये संस्थान किस स्तर का है। ए++ ग्रेड नैक द्वारा प्रदान किए जाने वाला सर्वश्रेष्ठ रोड है। जो श्रीराम कॉलेज ने प्राप्त किया है। उन्होंने इस उपलब्धि के लिए श्रीराम ग्रुप ऑफ कॉलेजेज के चेयरमैन, निदेशक आदित्य गौतम, प्राचार्य प्रेरणा मित्तल, सभी विभागाध्यक्ष और शिक्षक एवं गैर शिक्षक कर्मचारियों को उनके सर्वोत्तम योगदान के लिए धन्यवाद दिया।