यूपी की राजधानी लखनऊ में डेंगू ने दी दस्तक, जांच में मिले 21 नए मरीज

शरीर में खुजली, काले दस्त होने पर कराई जांच, पुष्टि होने पर ले पैरासिटामॉल दवाई

 
dengue

लखनऊ। यूपी की राजधानी लखनऊ में एक बार फिर डेंगू ने अपने पांव पसारने शुरू कर दिए हैं। गुरुवार को डेंगू की प्रारंभिक जांच में 21 नए मरीजों में इसकी पुष्टि हुई है,  जिसके बाद सभी मरीजों के नमूना एलाइजा जांच के लिए भेजे गए हैं। लोकबंधु अस्पताल में 8 मरीज, सिविल अस्पताल में 5, बलरामपुर अस्पताल में 5,ठाकुरगंज संयुक्त अस्पताल में 3 मरीज मिले हैं। बता दें कि इसमें 8 मरीज ऐसे हैं, जिन्हें तेज बुखार आया तो सरकारी अस्पतालों में कार्ड टेस्ट कराया गया, जिसमें डेंगू रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

बलरामपुर अस्पताल के इमरजेंसी मेडिकल अधिकारी डॉक्टर सौरभ सिंह ने बताया कि इन दिनों उनके यहां सबसे ज्यादा बुखार के मरीज आ रहे हैं, जो टायफाइड, मलेरिया और डेंगू से ग्रसित हैं। उन्होंने कहा कि इसके लक्षण दिखाई देने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें, क्योंकि इलाज सही समय से मिल जाए तो इसमें मौत के चान्सेस एक परसेंट से भी कम होते हैं। अगर शरीर मे खुजली हो रही है, दाने निकल रहे हों एवं  मसूड़ों से ब्लड आ रहा हो या फिर काले रंग का दस्त हो रहा हो तो तत्काल डेंगू की जांच कराएं। पुष्टि होने पर पेरासिटामोल दवाई के साथ लिक्विड चीजों का सेवन ज्यादा करें।

दरअसल... कानपुर रोड स्थित लोकबंधु अस्पताल की ओपीडी में 8 मरीजों की रिपोर्ट कार्ड टेस्ट में पॉजिटिव आई है। ये मरीज आलमबाग, आशियाना, कानपुर रोड के निवासी हैं। डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी (सिविल) अस्पताल की ओपीडी में 5 मरीज कार्ड टेस्ट में पॉजिटिव आए हैं। बलरामपुर अस्पताल में 5 संक्रमित आए हैं। वहीं, रानी लक्ष्मीबाई संयुक्त चिकित्सालय और ठाकुरगंज संयुक्त अस्पताल में 3 मरीज मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग इसके नियंत्रण के लिए अगले महीने यानी अक्टूबर में विशेष अभियान चलाएगा।