आज भी जहरीली बनी हुई है दिल्ली की वायु गुणवत्ता

गुरूवार सुबह 387 रिकॉर्ड किया गया एक्यूआई

 
AQI

राजधानी दिल्ली में वायु प्रदूषण की रोकथाम के लिए लगाए गए हर तरह के प्रतिबंध हटा लिए गए हैं। पिछले दिनों निर्माण कार्य को भी शुरू करने की स्वीकृति दे दी गई है। इस बीच दिल्ली-एनसीआर में लगातार वायु गुणवत्ता सूचकांक में इजाफा हो रहा है। सफर इंडिया के मुताबिक गुरूवार सुबह दिल्ली में एक्यूआई 387 रिकार्ड किया गया, जो स्वास्थ्य के लिहाज से बहुत खतरनाक है।

ये भी पढ़ेः आपातकालीन स्तर पर पहुंची दिल्ली की वायु गुणवत्ता

दिल्ली में हवा की गुणवत्ता एक बार फिर गंभीर श्रेणी में पहुंच गई। कुछ ऐसी ही स्थिति बुधवार को भी रहने के आसार हैं। ठंड बढ़ने के साथ ही वायु प्रदूषण में और इजाफा होने के आसार हैं। वायु गुणवत्ता सूचकांक में इजाफा होने की वजह से राजधानी दिल्ली के साथ-साथ एनसीआर के शहरों की हवा भी एक बार फिर स्वास्थ्य के लिए घातक हो गई है। इसका कारण हवा की गति बहुत कम होना है। ऐसे में विशेषज्ञों ने खासतौर से बुजुर्गों और बच्चों को वायु प्रदूषण के चलते बचाव की सलाह दी है।

ये भी पढ़ेः वायु गुणवत्ता में सुधार के लिए आप सरकार ने लिय़ा बड़ा फैसला

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के मुताबिक 25 दिसंबर तक दिल्ली में हवा की गुणवत्ता बेहद खराब श्रेणी में ही रहने की संभावना है। ऐसे में प्रदूषण के बीच लोग क्रिसमस मनाने को मजबूर होंगे।