कृष्ण की लीला स्थली में हर्षोल्लास के साथ मनाया आठवां अंतरराष्ट्रीय योग दिवस

सैकड़ों लोगों ने योग गुरुओं से सीखी स्वस्थ जीवन जीने की कला

 
yoga

मथुरा। गोवर्धन कस्बे में मंगलवार को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया। योग दिवस के अवसर पर कस्बे के चंद्रा गार्डन, गोवर्धन थाना परिसर और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर सैकड़ों की संख्या में लोगों ने योग कर योग गुरुओं से स्वस्थ जीवन जीने की कला सीखी। इस दौरान योगाचार्य धर्म दास महाराज ने बताया कि योग हमारे जीवन में बहुत उपयोगी है। योग एक आध्यात्मिक प्रक्रिया है। जिसमे शरीर मन और आत्मा शुद्ध हो स्वस्थ जीवन प्रदान करती है। योग खुशहाली और स्वस्थ्य जीवन शैली प्रदान करता है। यह हमारे ऋषि मुनियों की हज़ारो साल की तपस्या का फल है. और कहा कि निरोगी शरीर ही उत्तम जीवन व्यतीत कर सकता है।

गोवर्धन तहसीलदार राजकुमार भास्कर ने योग शिविर के दौरान बताया कि पहली बार देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 27 सितंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने भाषण के दौरान प्रस्तावित किया था। आज योग दिवस के अवसर पर कस्बे में जगह जगह योग शिविर का आयोजन कर लोगों योग कर स्वस्थ जीवन जीने की कला सीख रहे है। हर व्यक्ति को प्रति दिन योग करना चाहिए। जिससे शरीर, मन मस्तिष्क स्वस्थ रहे. और कहा कि पहले वर्षो की अपेक्षा इस वर्ष योग शिविर में लोगों की संख्या अधिक देखी गई है। इससे साफ प्रतीत होता है कि योग के प्रति लोगों का रुझान बढ़ा है।

वही योग शिविर में आये बुजुर्ग दीनदयाल मित्तल ने बताया कि उनकी उम्र 75 वर्ष से ऊपर है वे प्रतिदिन योग करता है. और योग के ही कारण स्वास्थ्य है। कहा कि हर व्यक्ति को प्रतिदिन योग करना चाहिए और जीवन में योग को अन्य आवश्यक वस्तुओं की तरह ही अपनाना चाहिए। जिससे जीवन निरोगी और सुखमय गुजर सके। कहा जाता है कि पहला सुख निरोगी काया ही है।