दिल्लीः जनप्रतिनिधि की उदासीनता का दंश झेल रहे बोगमपुर के लोग

विधायक और पार्षद आप के होने के बाद भी नहीं हुआ विकास

 
PROBLEM
  • रिपोर्टः मुकेश राणा

दिल्ली की केजरीवाल सरकार भले ही दिल्ली में विकास के लाख दावे कर लें, लेकिन दिल्ली के कई हिस्सों में इसकी जमीनी हकीकत कुछ और ही दिखाई देती है. दिल्ली के कई इलाकों में विकास शून्य नजर आता है. ताजा मामला दिल्ली के बवाना विधानसभा के अंतर्गत आने वाले बेगम पुर वार्ड में देखने को मिल रहा है, जहां बदहाली का आलम स्थानीय लोगों को नारकीय जीवन जीने को मजबूर कर रहा है. बेगमपुर में सड़क पर जगह जगह जलभराव की तस्वीरें मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के उन दावों को खोखला साबित कर रहे हैं, जिसमें वे दिल्ली को विकास के मामले में लंदन और पेरिस से तुलना करते हैं. आपको बता दें कि बेगम पुर की सड़क पर दिख रहा जलभराव कोई बरसाती पानी का नहीं है, बल्कि नालियों के ओवरफ्लो के कारण है.

PROBLEM

दरअसल बेगम पुर वार्ड से निगम पार्षद और स्थानीय विधायक दोनों ही आम आदमी पार्टी से हैं इसके बावजूद भी स्थानीय निवासी जनप्रतिनिधि और प्रशासन की उदासीनता का दंश झेल रहे हैं. स्थानीय लोगों का कहना है कि सड़क की ये बदहाल स्थिति लंबे समय से बनी हुई हैं, लेकिन आज तक इसकी कोई सुध लेने वाला नहीं है. स्थानीय स्थानीय लोगों ने स्थानीय जनप्रतिनिधि पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होने इस कॉलोनी को लावारिस बना कर छोड़ दिया है. इस सड़क की बदहाल स्थिति के कारण यहां से गुजर रहे राहगीरों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता है. वाहन चालकों को यहां से गुजरते समय बड़ी दुर्घटना का डर सताता रहता है. कई बार तो वाहन चालक दुर्घटना के शिकार तक हो जाते हैं. इस सड़क से रोजाना बड़ी संख्या में लोगों की आवाजाही देखने को मिल जाती है.

बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दिल्ली में विकास बड़े बड़े दावे करते हैं, लेकिन ऐसी तस्वीरें दिल्ली में विकास की के दावे की हवा निकालने का काम कर रही है. आलम ये हो गया है कि स्थानीय लोगों का जीना दुभर हो गया है. ऐसे में देखने वाली बात यह होगी कि स्थानीय जनप्रतिनिधि का ध्यान इस ओर कब तक आकर्षित होता है, ताकि क्षेत्र की जनता इस बदहाल स्थिति से बाहर निकल सके.