मीटिंग में बोले सपा जिलाध्यक्ष, ‘बीजेपी की नफरत की राजनीति देश के लिए घातक बन रही है’

सपा की मासिक मीटिंग में जनता के हितों के मुद्दों को प्रमुखता से उठाने का लिया निर्णय

 
MEETING

  • रिपोर्टः गोपी सैनी

मुजफ्फरनगर। समाजवादी पार्टी की मासिक मीटिंग मुजफ्फरनगर में पार्टी कार्यालय पर सपा जिलाध्यक्ष प्रमोद त्यागी की अध्यक्षता और सपा जिला महासचिव जिया चौधरी के संचालन में संपन्न हुई। सपा जिलाध्यक्ष प्रमोद त्यागी एडवोकेट ने कहा कि बीजेपी की नफरत की राजनीति देश के लिए घातक बन रही है। जनता के मूल मुद्दों बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी, किसानों, मजदूरों और युवाओं की दुर्दशा से ध्यान हटाने के लिए बीजेपी की डबल इंजन की सरकार तेजी से नफरत को बढ़ावा दे रही है। बीजेपी नेताओं के बयान देश के एकता भाईचारे और सांप्रदायिक सौहार्द को तहस-नहस कर भारत की मजबूत छवि को नुकसान पहुंचा रहे हैं।

प्रमोद त्यागी ने सपा कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों से आह्वान किया कि देश और प्रदेश को बचाने के लिए बीजेपी की नफरत की राजनीति से जनता को सावधान करें. और जनता के मूल मुद्दों को उठाने के लिए आगे आए। मीटिंग में निर्णय लिया गया कि सपा महत्वपूर्ण बड़े मुद्दों के साथ-साथ स्थानीय मुद्दों पर भी जनता की आवाज उठाएगी। सपा जिला उपाध्यक्ष सोमपाल सिंह और पूर्व प्रमुख विनय पाल ने अपने संबोधन में संगठन की मजबूती के साथ सक्रियता पर बल देते हुए गांव-गांव के मोहल्ले में अभियान चलाकर आपसी एकता भाईचारे को मजबूत बनाने पर बल दिया।

सपा जिला महासचिव जिया चौधरी और सपा जिला मीडिया प्रभारी साजिद हसन ने कहा कि बीजेपी सरकार में बढ़ते भ्रष्टाचार और जनता के उत्पीड़न को सपा कार्यकर्ता बर्दाश्त नहीं करेंगे। सपा विधानसभा अध्यक्ष पंडित सत्यदेव शर्मा, सत्यवीर त्यागी, मुन्ना ककराला ने प्रत्येक तहसील स्तर पर जनता की प्रमुखता से आवाज बनने पर जोर देते हुए बीजेपी सरकार के खिलाफ आंदोलन छेड़ने की मांग रखी।

सपा की मासिक मीटिंग को मुख्य रूप से सपा लोहिया वाहिनी जिला अध्यक्ष संदीप धनगर, सपा यूथ ब्रिगेड जिलाध्यक्ष राशिद मलिक, सपा व्यापार सभा जिलाध्यक्ष राहुल वर्मा, सपा मजदूर सभा जिलाध्यक्ष नासिर राणा, सपा अल्पसंख्यक सभा जिलाध्यक्ष नूर हसन सलमानी, सपा छात्र सभा जिलाध्यक्ष युसूफ गौर एडवोकेट सपा लोहिया वाहिनी राष्ट्रीय सचिव रोहन त्यागी समेत अनेक सपा पदाधिकारी और कार्यकर्ता मौजूद रहे।