मुजफ्फरनगर पहुंचे सुबोध शर्मा का कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष ने किया गया स्वागत

21 जुलाई को प्रदर्शन के दौरान गए थे जेल

 
मुजफ्फरनगर

  • रिपोर्टः गोपी सैनी

मुजफ्फरनगर। पूर्व जिलाध्यक्ष अशोक वर्मा की अध्यक्षता और कार्यवाहक शहर अध्यक्ष अब्दुल्ला आरिफ़ एवं शहर महासचिव धीरज महेश्वरी नेतृत्व में कांग्रेस कमेटी ने स्वागत समारोह का आयोजन किया। जिसमें जिलाध्यक्ष सुबोध शर्मा समेत जिला उपाध्यक्ष गुफरान काजमी, फिशरमैन प्रदेश अध्यक्ष देवेंद्र कश्यप का नौ दिन के कड़े संघर्ष के बाद जेल से रिहा होने पर आर्य समाज मंदिर में फूलमालाओं से स्वागत किया गया।

दरअसल 21 तारीख को कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्षा सोनिया गांधी को प्रवर्तन निदेशालय द्वारा पूछताछ के लिए बुलाने के विरोध में हुए प्रदर्शन के दौरान सरकार द्वारा एफआईआर दर्ज कर विभिन्न धाराओं में जेल भेज दिया गया था। जेल से बाहर आने के बाद मुजफ्फरनगर में प्रथम बार पधारने पर स्वागत समारोह में जिलाध्यक्ष सुबोध शर्मा ने अपने वक्तव्य में कहा कि मौजूदा हालात में जहां लाखों युवा बेरोजगार हैंमहंगाई अपने चरम पर आटा दाल मसाले दूध और दैनिक उपयोग की वस्तुओं पर जीएसटी लगाकर गरीबों का निवाला छीन रहा है और सरकार मौन है और सिर्फ झूठे प्रचार के माध्यम से भोली भाली जनता को दिग्भ्रमित कर रही है। जिसका विरोध करने पर हम सभी कांग्रेसियों को नौ दिनों तक शारिरिक, मानसिक रूप से प्रताड़ित किया गया लेकिन हम सभी न डरें थे ना डरे है और न ही कभी डरेंगे। और सरकार की गरीबों के प्रति उदासीनता को जग जाहिर करेंगे।

जिलाध्यक्ष ने कहा जनता की इस लड़ाई को लड़ने के लिए हमें नौ दिन, नौ महीने और नौ साल तक भी अगर जेल जाना पड़ा तो भी हम निड़र होकर जनता की इस लड़ाई के लिए बार बार जेल जाने को तैयार हैं। वहीं जिला उपाध्यक्ष गुफरान काजमी ने कहा कि हम कांग्रेस के वो सिपाही है। जो सरकार की गलत नीतियों और निर्णय का मरते दम तक विरोध करते रहेंगे और गरीबों, मजलूमों की आवाज को दबने नहीं देंगे।