कच्ची शराब की बिक्री को लेकर ग्रामीणों में आक्रोश

ग्रामीणों ने की शराब की बिक्री को बंद कराने की मांग, एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

 
GYAPAN

 

  • रिपोर्टः तनवीर अंसारी

सितारगंज। उत्तराखंड के सितारगंज इलाके में ग्राम लौका गोठा के ग्रामीणों ने उपजिलाधिकारी कार्यालय पहुंचे। ग्रामीणों ने इलाके में अवैध रूप से बिक रही कच्ची शराब के खिलाफ नारेबाजी की शराब की बिक्री को बंद कराने की मांग करते हुए एसडीएम को ज्ञापन सौंपा।

ग्रामीणों का कहना है कि इलाके में लगातार अवैध रूप से कच्ची शराब खुलेआम बिक रही है। वहीं पुलिस द्वारा समय-समय पर कार्रावाई भी की जा रही है, लेकिन ग्राम लौका गोठा में अवैध शराब बिक्री रुकने का नाम नहीं ले रही है। वहीं ग्रामीणों ने शराब बेचने वालों के घर पर छापा मारकर शराब को कट्टे में भरकर उपजिलाधिकारी कार्यालय ले आए जहां पर उपजिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपकर अवैध कच्ची शराब की बिक्री पर रोक लगाने की मांग की। बता दें कि इससे पहले भी ग्रामीणों ने कच्ची शराब के खिलाफ अभियान चलाया। लेकिन शराब माफिया बेखौफ होकर कच्ची शराब बेच रहे हैं।

वहीं ग्रामीणों का कहना है कि शराब पीने से कई परिवार बर्बाद हो चुके हैं, कई महिलाएं विधवा हो चुकी है। बच्चों का भविष्य अंधकार की ओर जा रहा है। लेकिन क्षेत्र में अवैध शराब बिक्री का काम जारी है। वही ग्राम लौका गोठा के ग्रामीणों में अवैध कच्ची शराब की बिक्री को लेकर खासा गुस्सा देखा गया है।