मुजफ्फरनगर में भी महंगाई के खिलाफ सड़क पर उतरे आप कार्यकर्ता, गैस सिलेंडर रख जताया विरोध

केंद्र सरकार को ठहराया बढ़ती महंगाई का जिम्मेदार

 
मुजफ्फरनगर

  • रिपोर्टः गोपी सैनी

मुजफ्फरनगर। देश में बढ़ती महंगाई के विरोध में आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं ने मुजफ्फरनगर में महावीर चौक पर प्रदर्शन कर सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन सौंपा। आप कार्यकर्ताओं ने रसोई गैस सिलेंडर महावीर चौक पर रख धरने पर बैठ गए। सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन सौंपकर खाद्य और आवश्यक वस्तुओं की बढ़ रही महंगाई के लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया।

महावीर चौक पर धरना देकर प्रदर्शन करते हुए आम आदमी पार्टी जिलाध्यक्ष अरविंद वालियान ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में चल रही बीजेपी की सरकार ने खाने पीने की वस्तुओं में बेतहाशा वृद्धि कर दी है। उन्होंने कहा कि लगाकर आटा-दाल और दूध तथा अस्पताल के कपड़े जैसे रोजमर्रा की चीजों में बढोतरी की है। कमरतोड़ महंगाई से जनता बेहाल हो चुकी है। महंगाई ने लोगों को हिला कर रख दिया है। बढ़े हुए दामों पर ही जनता को सरसों का तेल लेने को मजबूर होना पड़ रहा है।

जिला संगठन प्रभारी अजय चौधरी अध्यक्ष ने कहा कि मजदूरों, किसानों और व्यापारियों के लिए अब मुश्किल की घड़ी है। उन्होंने कहा कि सरकार पूंजीपतियों के लिए कार्य करती दिख रही है। मीडिया प्रभारी संजीव मान और पश्चिमी प्रांत उपाध्यक्ष अकील राणा ने कहा कि महंगाई कम करने के लिए मोदी सरकार के पास पैसा नहीं, किसानों के लिए मोदी सरकार के पास पैसा नहीं, बेरोजगारों को रोजगार देने के लिए मोदी सरकार के पास पैसा नहीं। लेकिन अपने चंद पूंजीपतियों तथा मित्रों के लिए मोदी सरकार ने 11 लाख करोड़ रुपये माफ कर दिए।

जिला महासचिव तसव्वुर हुसैन व जिला कोषाध्यक्ष वसी खैरी ने कहा कि अडानी 2.5 लाख करोड़ रुपये विजय माल्या 10 हजार करोड रुपए, ललित मोदी ढाई हजार करोड रुपये औऱ नीरो मोदी 20 हजार करोड़ रुपये नितिन सरदेसाई ने 6 हजार करोड़ रुपये लेकर हिंदुस्तान छोड़कर भाग गए। बैंक खाली हो गया, खजाने खाली हो गए और मोदी खाली हो चुके खजाने को भरने के लिए आमजन के प्रयोग की रोजमर्रा की वस्तुओं पर टैक्स लगा रहे हैं।