मुजफ्फरनगर में शिवरात्रि के अवसर पर लगाया गया बालाजी का दरबार

बाबा की ज्योत जलाकर की गई कीर्तन की शुरुआत

 
मुजफ्फरनगर

  • रिपोर्टः गोपी सैनी

मुजफ्फरनगर। हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी श्री बालाजी दरबार संकीर्तन मंडल खादरवाला द्वारा शिवरात्रि का कीर्तन बसो देवी की धर्मशाला अबुपूरा में आयोजित किया गया। ये कीर्तन श्री बालाजी मंदिर के संस्थापक चंद किरण गर्ग गुरुजी और पंकज जिंदल गुरु जी के सानिध्य में आरंभ किया गया। सर्वप्रथम तरुण बंसल द्वारा बाबा की ज्योत प्रज्वलित करके कीर्तन को आरंभ किया गया। दरबार के प्रमुख प्रवीण गर्ग ठेकेदार द्वारा आने वाले समस्त भक्तों को तिलक किया गया।

पंकज जिंदल गुरु जी ने बताया कि आज के दिन शिवरात्रि पर कीर्तन में महिलाओं की गोद भी भरी जाती है। जो महिलाएं बच्चे की आस लेकर इस कीर्तन में आती है। उनसे एक सेब का फल मंगवाया जाता है. और बालाजी महाराज की कृपा से उनकी झोली भरी जाती है। विगत कीर्तनों में देखा गया है कि जो भी महिला आस लेकर आती है। बाबा उस महिला की झोली अवश्य भरते हैं। इसलिए बहुत सी महिलाएं प्रत्येक शिवरात्रि के कीर्तन पर यहां आस लेकर आती हैं।

बाबा का आह्वान कर कीर्तन मैं भक्तों द्वारा सुंदर भजनों से बाबा को रिझाया गया। मंडल के प्रमुख सेवादार शलभ गर्ग, आशु वर्मा, मोहनलाल समेत अन्य द्वारा बहुत ही सुंदर भजनों पर बाबा का गुणगान किया गया। कार्यक्रम को सफल बनाने में राजकुमार वर्मा आलोक कुमार अंकित वर्मा समेत अन्य का सहयोग रहा।