मुजफ्फरनगर में कारगिल दिवस पर बोले राज्य मंत्री, ‘देश कारगिल शहीदों का ऋणी है’

पुष्प चक्र अर्पित कर कारगील शहीदों को दी श्रद्धांजलि

 
मुजफ्फरनगर

  • रिपोर्टः गोपी सैनी

मुजफ्फरनगर। राज्य मंत्री कपिल देव अग्रवाल ने कारगिल विजय दिवस पर नुमाईश कैंप में शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की और कहा कि देश इन शहीदों का ऋणी है। 1999 में पाकिस्तानी सेना के साथ हुए सशस्त्र संघर्ष में भारतीय सेना के वीर जवानों ने अपने शौर्य और पराक्रम का परिचय देते हुए दुश्मनों को बुरी तरह पराजित कर पाकिस्तान की सीमा पार वापिस जाने को मजबूर किया। 26 जुलाई 1999 को भारत ने कारगिल युद्ध में विजय हासिल की थी। इस दिन को हर वर्ष विजय दिवस के रूप में मनाया जाता है।

नगर विधायक एवं प्रदेश सरकार में स्वतंत्र प्रभार मंत्री कपिल देव अग्रवाल ने नुमाईश कैंप स्थित शहीद स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित कर शहीदों को नमन किया और कहा कि करीब दो महीने तक चला कारगिल युद्ध भारतीय सेना के साहस और जांबाजी का ऐसा उदाहरण है जिस पर हर भारतीय देशवासी को गर्व होना चाहिए। मंत्री कपिल देव ने बताया कि कारगिल युद्ध में मुजफ्फरनगर के ग्राम पचेंडा के नायक बचन सिंह, ग्राम इटावा के जवान नरेंद्र राठी, ग्राम विज्ञाना के जवान रिजवान त्यागी, ग्राम फुलत निवासी सतीश कुमार व ग्राम बेलडा के जवान अमरेश पाल भी शहीद हुए थे जिन पर जनपदवासियों को गर्व है।

कपिल देव ने कहा कि हमारी सेना की वीरता और साहस का ही परिणाम था कि दुश्मनों ने एक इंच जमीन भी नहीं कब्जाई और उन्हें विवश होकर भागना पडा। मंत्री कपिल देव ने कहा कि इन वीर जवानों की शहादत आने वाली पीढियों में देशप्रेम की भावना को बढाएगी और युवाओं के लिए प्रेरणास्रोत बनेगी। उन्होंने कहा कि देश कारगिल युद्ध में शहीद हुए जवानों का सदैव ऋणी रहेगा।

इस अवसर पर भाजपा जिलाध्यक्ष विजय शुक्ला, कर्नल सुधीर, कैप्टन प्रवीण, अचित मित्तल, कुशपुरी, अशोक बाटला, मण्डल अध्यक्ष कपिल त्यागी, सभासद नरेश मित्तल आदि उपस्थित रहे।