मुजफ्फरनगरः मदरसों के सर्वों को लेकर संगीत सोम का बड़ा बयान, बताया आतंक के अड्डे

मदरसों में आतंकी गतिविधियां चलती है पढ़ाई का कोई नाम नहीं हैः सोम

 
सगीत सोम

मुजफ्फरनगर। पूर्व बीजेपी विधायक संगीत सोम ने मदरसों के सर्वे पर तंज कसते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में ही नहीं पूरे हिंदुस्तान में जितने मदरसे हैं सभी का सर्वे होना चाहिए। उन्होंने कहा कि वे पहले से कह रहा हैं कि इनमें आतंकी गतिविधियां चलती है पढ़ाई का कोई नाम नहीं है। जितने मौलाना मदरसों में है इनकी अगर जांच हो जाए तो आधों के कनेक्शन आतंकियों से निकलेंगे। मदरसों की जांच होनी चाहिए 90 परसेंट मदरसे सरकारी जमीन पर बनाए गए हैं। मदरसों में आतंकी गतिविधियां चल रही हैं ये बंद होने चाहिए।

संगीत सोम ने देवबंद के दारुल उलूम में हुई बैठक पर कहा कि इन्हें डर है कि इनके आतंकी काले चिट्ठे खुल ना जाएं, डर है कि आतंक के नाम पर जो ब्लैक मनी इन पर आती है वो खुल न जाए, इन्हें डर है कि जो आतंकी गतिविधियां मदरसे में करते है, वे खुल न जाए। अगर इन्हें डर ना होता तो ये कहते कि जो आपको करना है करें। सरकार चाहती है कि मदरसों का आधुनिकरण किया जाए, कंप्यूटर लगाएं, अच्छे टीचर दिए जाएं। लेकिन उन्हें मदरसों की आड़ में गलत काम करना है, आतंकवाद बढ़ाना है, जनसंख्या बढ़ानी है और कुछ भी नहीं करना है।

पूर्व विधायक ने कांग्रेस और सपा पर तंज कसते हुए कहा कि देश में जब से चीते आए है तभी से सपा और कांग्रेस बौखलाई हुई है। उन्होंने कहा कि सपा-कांग्रेस दंगों के नाम पर राजनीति करते थे। उन्हीं लोगों ने मुजफ्फरनगर दंगा कराया, आगरा दंगा कराया देवबंद दंगा कराया। उन्होंने अखिलेश यादव को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि अखिलेश यादव ट्विटर ट्विटर खेलते हैं और राहुल गांधी आइसक्रीम खाते हैं तीसरा कोई काम नहीं है इनका। राहुल गांधी की भारत जोड़ों यात्रा पर संगीत सोम ने कहा कि वे पहले अपना घर जोड़ ले उसके बाद भारत जोड़ों यात्रा निकाले।