श्रमिकों की बेटियों को वितरित की गई साइकिल, खिल उठे बेटियों के चेहरे

अब साइकिल से स्कूल जाएगी श्रमिकों की बेटी

 
फाइल फोटो
  • रिपोर्टः आलम अंसारी

उत्तर प्रदेश के हापुड़ जिले में श्रम विभाग में पंजीकृत श्रमिकों की बेटियों को साइकिल देने की योजना चलाई गई है। इसका लाभ सिर्फ उन्हीं छात्राओं को मिलेगा, जिन्होंने शिक्षा सन पिछले वर्ष में हाईस्कूल एवं इंटर की परीक्षा पास की है। साथ ही अगली कक्षा में प्रवेश भी ले लिया है। इस मौके पर काफी संख्या में लोग मौजूद रहे है।

ये भी पढ़ेः पीएम गति-शक्ति योजना को लेकर केंद्रीय रेल मंत्री ने दी ये जानाकरी

दरसल शहर में भले ही हर गली-मुहल्ले स्कूल हों, लेकिन ग्रामीण अंचल में अब भी छात्र-छात्राओं को लंबी दूरी तय करके स्कूल जाना पड़ता है। ऐसे में आर्थिक रूप से मजबूत परिवार तो अपने बच्चों के लिए वाहनों का इंतजाम कर देते हैं। लेकिन रोज कमाने, खाने वाले मजदूर वर्ग के लिए ये बड़ा कठिन होता है, ऐसे में उनके बच्चों को पैदल ही स्कूल जाना पड़ता है।

साइकिल

इसमें सबसे ज्यादा परेशान छात्राओं को होती हैं। इसी को देखते हुए प्रदेश सरकार ने श्रमिकों की बेटियों को साइकिल देने की पहल की है। इसी कड़ी में हापुड़ ब्लॉक में 335 लाभार्थियों को इसका लाभ मिला और 187 छात्राओं को बाकी अन्य छात्राओं को साइकिल वितरित की गई। इसके तहत आज श्रम विभाग के अधिकारियों एवं बीजेपी विधायक विजयपाल आढ़ती के द्वारा हरी झंडी दिखाकर इसकी शुरुआत की गई और छात्राओं को साइकिल वितरित की गई। ताकि उन्हें लंबी दूरी तय करके पढ़ने जाने में सुविधा हो सके।