दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच बढ़ी सेल्फ टेस्टिंग किट की डिमांड

 
फाइल फोटो

दिल्ली। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच राजधानी दिल्ली में सेल्फ टेस्टिंग किट की डिमांड बढ़ गई हैं, दिल्ली रिटेल डिस्ट्रीब्यूशन केमिस्ट एलायंस के अध्यक्ष संदीप नांगिया ने जानकारी देते हुए बताया कि दिल्ली में हर दिन लगभग 5 से 10 हजार सेल्फ टेस्टिंग किट बिक रही है, और डिमांड लगातार बढ़ रही है उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीमीटर की बहुत मांग थी। इसी तरह से हम इस सेल्फ टेस्टिंग किट की बिक्री में भी काफी उछाल और डिमांड देख रहे है।

संदीप नांगिया ने कहा कि जो लोग प्रयोगशाला में खुद का परीक्षण करने में असमर्थ हैं या जो परीक्षण के लिए बाहर जाने से हिचकिचाते हैं, वे कोविड स्व-परीक्षण किट की ज्यादा खरीदारी कर रहे हैं। जैसे-जैसे किट की मांग बढ़ी हैं वैसे-वैसे दुकानदारों की भी। नांगिया ने कहा कि बीमारी का जल्द पता लगाने के लिए एक किट हाथ में होना एक फायदा है, बड़ी संख्या में घरेलू परीक्षण करने वाले लोगों की जानकारी में विसंगतियां हो सकती हैं क्योंकि सरकार को सकारात्मक मामलों की सक्रिय रूप से रिपोर्ट नहीं की जा रही है।

नागियां के मुताबिक इन कीटों में एक स्टेराइल स्वैब, डिस्पोजल बैग, एक प्री फील्ड एक्सट्रैक्शन ट्यूब और एक टेस्ट कार्ड शामिल होता है। बाजार में उपलब्ध स्व-परीक्षण किट क्विक एंटीजन किट हैं जो 30 मिनट से भी कम समय में परिणाम देती हैं। इसकी कीमत 3250 रुपये से 3350 रुपये तक हैं।