हिंदुराव अस्पताल में हड़ताल जारी, रेजिडेंट डॉक्टर्स के साथ अब नर्स भी धरने पर बैठी

सैलरी और डीए ना मिलने की वजह से जारी है हड़ताल

 
फाइल फोटो

खबर राजधानी दिल्ली से है, जहां एमसीडी दिल्ली के सबसे बड़े अस्पताल हिंदुराव में अब रेजिडेंट डॉक्टर्स के साथ साथ नर्स भी हड़ताल पर जा चुकी हैं। एक तरफ जहां रेजिडेंट डॉक्टर सैलरी और डीए ना मिलने की वजह से हड़ताल पर हैं तो दूसरी तरफ नर्सों का कहना है कि इस समस्या के साथ साथ स्टाफ की शॉर्टेज भी इस हड़ताल का कारण है।

ये भी पढ़ेः आप प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने बीजेपी की एमसीडी पर लगाए आरोप

नर्सेज वेलफेयर एसोसिएशन की प्रेसिडेंट इंदु का कहना है कि सबसे बड़ी दिक्कत सैलरी को लेकर है। पिछले पांच साल से हम फाइनेंसियल दिक्कतों से जूझ रहे हैं। नर्सेज पेशेंट के डायरेक्ट कांटेक्ट में रहती हैं, जबकि नर्सेज की अस्पताल में कमी है। पेशेंट और नर्सेज का अनुपात 10 पर एक नर्स होना चाहिए लेकिन 70-80 पर एक नर्स है और कभी-कभी तो डबल ड्यूटी करनी पड़ती है।

ये भी पढ़ेः आप कार्यकर्ताओं ने बीजेपी की एमसीडी के खिलाफ किया प्रदर्शन

आपको बता दें कि गत 8 नवंबर से हॉस्पिटल स्टाफ रोजाना 3 घंटे हड़ताल कर आंदोलन कर रहे थे, लेकिन उनकी कोई सुनवाई नहीं हुई। जिसके बाद 23 नवंबर से रेजिडेंट डॉक्टर्स और पैरा-मेडिकल स्टाफ ने पूर्ण हड़ताल शुरू कर दी। 24 नवंबर को इनके साथ नर्सेंज ने भी हड़ताल का समर्थन करते हुए उनके साथ धरने पर बैठ गई।