व्यापारियों ने प्रदेश सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा, लगाए ये आरोप

मेंथा उद्योग पर मंडी शुल्क थोपने का लगाया आरोप

 
vayapari

यूपी में  बदायूँ,संभल,बरेली और शाहजहांपुर में मेंथा की खेती के लिए जाने जाते है बड़ी मात्रा में किसान मेंथा की फसल को उगाता है, मगर अब इस फसल पर मंडी शुल्क लगने के कारण मेंथा व्यापारी और किसान सरकार से नाराज़ हैं। मेंथा व्यापारियों ने बुधवार को प्रदेश सरकार के मंत्री को ज्ञापन दे कर मंडी शुल्क हटाने की मांग की।

ये भी पढ़ेः हमीरपुर में 6 माह पूर्व बना पुल हुआ ध्वस्त, जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन

दरअसल... मेंथा फसल के व्यापारी और किसानों ने प्रदेश सरकार के खिलाफ मोर्चा खोला। व्यापारियों ने नगर विकास राज्यमंत्री महेश चंद्र गुप्ता के माध्यम से प्रधानमंत्री के नाम एक ज्ञापन दिया, जिसमें मेंथा फसल से मंडी शुल्क हटाने की मांग की। व्यापारियों का कहना है कि जब सरकार ने मेंथा को उद्योग का दर्जा दिया हुआ है, तो इस पर मंडी शुल्क थोपने का क्या औचित्य है। व्यापारियों का कहना हैं कि सरकार ने उन्हें एक बार फिर भ्रष्टाचार की आग में झौंक दिया हैं।