प्रदेश के सभी राजमार्ग होंगे 7-7 मीटर चौड़े, लोक निर्माण विभाग मंत्री ने दिए ये निर्देश

ग्रामीण सड़क बनाई जाएंगी कम से कम 5.5 मीटर चौड़ी

 
जितिन प्रसाद

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के लोक निर्माण विभाग मंत्री जितिन प्रसाद ने शुक्रवार को समीक्षा बैठक की। समीक्षा बैठक में अनजुडी बसावटों, स्टेट हाईवे के चौड़ीकरण, ग्रामीण मार्गों के चौड़ीकरण और मिसिंग लिंक के लिए नीति निर्धारण के संबंध में विभाग द्वारा किए जा रहे कार्यों की जानकारी ली। उन्होंने बैठक में ईपीसी मोड पर बनने वाले भवन निर्माण की भी जानकारी ली। जितिन प्रसाद ने निर्देश दिया कि प्रदेश के सभी राज्य राजमार्गों को कम से कम 7 मीटर चौड़ा करने की कार्य योजना तैयार की जाए जिससे प्रदेश के सभी स्टेट हाईवे अगले साल तक 7 मीटर दोनों लेन की जा सके।

जितिन प्रसाद ने समीक्षा बैठक में कहा कि कार्य योजना तैयार कर ढाई सौ से ज्यादा आबादी वाली बसावटों को पक्की सड़क मार्ग से जल्द से जल्द जोड़ा जाए। ग्रामीण सड़कों के चौड़ीकरण/सुदृढ़ीकरण की समीक्षा करते हुए उन्होंने निर्देश दिया कि कम से कम 5.5 मीटर चौड़ाई की ग्रामीण सड़क बनाए जाने की कार्ययोजना तैयार की जाए। उन्होंने रोड सेफ्टी के संबंध में समीक्षा करते हुए विभाग द्वारा अब तक किए गए कार्यों की जानकारी ली और कहा कि रोड सेफ्टी बहुत ही जरूरी है। उन्होंने निर्देश दिया कि अभियान चलाकर अनाधिकृत कट को बंद किए जाएं। रोड सेफ्टी के लिए सड़कों की डिजाइनिंग पर भी विशेष ध्यान दिया जाए।

समीक्षा बैठक में ऑनलाइन के माध्यम से लोक निर्माण विभाग राज्य मंत्री बृजेश सिंह और प्रमुख सचिव लोक निर्माण विभाग नरेंद्र भूषण के साथ प्रमुख अभियंता (विकास) एवं विभागाध्यक्ष मनोज कुमार गुप्ता, प्रमुख अभियंता परिकल्प एवं नियोजन राकेश सक्सेना, प्रमुख अभियंता ग्रामीण सड़क अरविंद कुमार श्रीवास्तव समेत शासन एवं विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।