खुशखबरीः अब यूपी की रोडवेज बसों में UPI के माध्यम से हो सकेगा किराया भुगतान

UPI से भुगतान पर परिचालक को भी मिलेगी प्रति टिकट एक रुपये की धनराशि

 
lkw

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के परिवहन राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार दयाशंकर सिंह ने बताया कि योगी सरकार प्रदेश के लोगों को बेहतर परिवहन सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए कटिबद्ध है। उन्होंने कहा है कि इस दिशा में उत्तर प्रदेश परिवहन निगम लगातार कार्य कर रहा है। नित नई तकनीक का समावेश किया जा रहा है। इसी क्रम में निगम की बसों में यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए अब टिकट मूल्य भुगतान के लिए क्यू आर कोड स्कैन कर यूपीआई के माध्यम से सुविधा उपलब्ध कराए जा रही है। उन्होंने बताया कि इस व्यवस्था को अधिक प्रभावी एवं आकर्षक बनाने के उद्देश्य से परिवहन निगम पेटीएम के सहयोग से बस परिचालकों के लिए आकर्षक प्रोत्साहन योजना प्रारम्भ करने जा रहा है। जिसके अंतर्गत परिचालकों को यूपीआई द्वारा टिकट किराया लेने पर प्रति टिकट एक रुपये की धनराशि पेटीएम की ओर से परिचालक को दी जाएगी।

जयवीर सिंह ने बताया कि इस स्कीम के लागू होने से परिवहन निगम की बसों के परिचालकों को यूपीआई  माध्यम इस्तेमाल करने के लिए प्रेरित किया जाएगा। इसी के साथ परिवहन निगम के प्रत्येक क्षेत्र के टॉप-3 यूपीआई के माध्यम से किराया लेने वाले परिचालकों को विशेष पुरस्कार से सम्मानित करने की योजना बनाई गई है। उन्होंने बताया कि विशेष प्रोत्साहन योजना आगामी 15 दिवस में निगम बसों में लागू की जाएगी। इसके लिए कार्रवाई शुरू कर दी गई है।

दयाशंकर सिंह ने बताया कि वर्तमान में परिचालकों को यूपीआई के माध्यम से टिकट बिक्री करने में हिचकिचाहट इत्यादि को दूर करने के उद्देश्य यह योजना लागू की जा रही है। इससे परिचालक यात्रियों को यूपीआई पेमेंट की सुविधा देने के लिए प्रेरित होंगे और ये कदम डिजिटल भुगतान की दिशा में परिवहन निगम की ओर से अग्रणी कदम होगा। इस योजना के लागू होने से यात्रियों को भी फुटकर की समस्या से निजात मिलेगी।