केंद्रीय कारागार आगरा में श्री राम कथा महोत्सव का होगा आयोजन, ये है उद्देश्य

राज राजेश्वरी मानव कल्याण एवं धर्मार्थ ट्रस्ट के माध्यम से होगा आयोजन

 
LKW

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के कारागार एवं होमगार्ड राज्यमंत्री धर्मवीर प्रजापति ने बताया कि प्रदेश की जेलों में बंद बंदियों के भौतिक एवं आध्यात्मिक जीवन की उन्नति के लिए और उन्हें समाज की मुख्यधारा में वापस लाने के लिए अनेक कार्यक्रम संचालित किए जा रहे हैं। जिससे बंदियों के मान सम्मान एवं आर्थिक स्थिति में वृद्धि के साथ उन्हें अपने लोगों के बीच में सामंजस्य बिठाने में भी सहयोग मिल रहा है। बंदी अपने जेल का कार्यकाल पूरा करने के बाद समाज में स्थापित हो सके और गरिमामय जीवन जी सकें।

कारागार मंत्री ने बताया कि इसी क्रम में केंद्रीय कारागार आगरा में बंद बंदियों की मानसिक शांति एवं आध्यात्मिक उन्नति के लिए 25 से 27 नवंबर, 2022 तक अपराह्न 02ः00 बजे से सायं 05ः00 बजे तक तीन दिवसीय रामकथा महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। ये महोत्सव राज राजेश्वरी मानव कल्याण एवं धर्मार्थ ट्रस्ट के तत्वाधान में किया जाएगा।

धर्मवीर प्रजापति ने बताया कि इस महोत्सव का मकसद बंदियों की मानसिकता में बदलाव लाने, सकारात्मक सोच एवं विकृतता को दूर करना है। उन्होंने बताया कि धार्मिक आयोजनों से व्यक्ति के सोच में बदलाव आता है। बंदी क्राइम की बाते न कर अपने घर-परिवार के बारे में सोचे-विचारें एवं खुद को किसी रचनात्मक कार्य से जोड़ सके। इसलिए इस धार्मिक महोत्सव के आयोजन का निर्णय लिया गया है।