प्रदेश सरकार ने दुग्ध संघों को मजबूत बनाने के लिए 333 लाख की धनराशि की मंजूर

द्वितीय किश्त के रुप में मंजूर की गई धनराशि

 
मुजफ्फरनगर

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदेश में डेयरी विकास के लिए दुग्ध संघों के सुदृढ़ीकरण एवं उन्हें पुनर्जीवित करने की योजना के तहत वर्तमान वित्तीय वर्ष में 333.334 लाख रूपये की धनराशि स्वीकृत प्रदान की है। ये धनराशि द्वितीय किश्त के रूप में स्वीकृत की गई है। जो आगरा, मैनपुरी, मेरठ, झांसी, जालौन(उरई), हमीरपुर, महोबा, बांदा, लखनऊ, लखीमपुर खीरी, बरेली, पीलीभीत, शाहजहांपुर, रामपुर, वाराणसी, मिर्जापुर, सोनभद्र, गोरखपुर, महाराजगंज, देवरिया, बस्ती, सिद्धार्थनगर, आजमगढ़, मऊ, प्रयागराज, प्रतापगढ, कानपुर, अयोध्या, अंबेडकरनगर, बहराइच और गोंडा जनपदों के लिए स्वीकृत की गई है।

दुग्ध विकास विभाग द्वारा शासनादेश जारी करते हुए योजना के संबंध में संबंधित जनपदों के दुग्धशाला विकास अधिकारी, उप दुग्धशाला विकास अधिकारी और आहरण वितरण अधिकारी को आवश्यक दिशा-निर्देश दे दिए गए हैं। शासनादेश में कहा गया है कि स्वीकृत धनराशि के उपयोग में राज्य सरकार द्वारा निर्धारित मानकों और दिशा-निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित किया जाये। स्वीकृत धनराशि का आहरण और व्यय योजना के समय-समय पर निर्गत दिशा-निर्देशों के साथ-साथ शासनादेश में निहित व्यवस्था के अनुसार किया जाएगा।