मुज़फ्फनगर बनने जा रहा है प्रदेश का पहला 'मुफ़्त इंटरनेट' वाला ज़िला, सर्राफा चौक से टेस्टिंग शुरू

सफल रही पहली टेस्टिंग, मिल रही है 50 से 65 एमबीपीएस की स्पीड

 
PM MODI
  • रिपोर्टःयश चौधरी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पीएम वाणी फ्री वाईफाई योजना अब धरातल पर उतरने लगी है। जिसकी शुरूआत उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले से होने जा रही है। खास बात ये है कि यूपी का ये पहला जिला होगा, जहां से पीएम वाणी वाईफाई के जरिए आम से लेकर खास तक को मुफ्त में इंटरनेट उपलब्ध कराया जाएगा। जिसका ट्रायल रविवार को मुजफ्फरनगर शहर के सर्राफा बाजार चौक से शुरू भी हो चुका है।
ये भी पढ़ेः भारत माता का पूजन करेंगे जिला संयोजक, निकलेगी तिरंगा यात्रा

दरअसल... प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बहुत पहले इस योजना की घोषणा की थी, लेकिन ये योजना धरातल पर नहीं उतर सकी थी। हालांकि अब इस योजना को धरातल पर उतारने की जिम्मेदारी भारत की 119 इंटरनेट कंपनियों को सौंपी गई है, जिनमें से एक कंपनी मुजफ्फरनगर की भी शामिल है, जिसका नाम स्टेबल नेटवर्क प्राइवेट लिमिटेड है। खास बात ये है कि अभी तक जो बाकी 118 कंपनियां है, ये इस योजना को अमली जामा पहनाने के लिए ब्लू प्रिंट की तैयार कर रही है, तो वहीं दूसरी तरफ स्टेबल नेटवर्क प्राइवेट लिमिटेड ने इस जमीन पर उतारना भी शुरू कर दिया है। इसी क्रम में रविवार को मुजफ्फरनगर के डीएम और मुख्य विकास अधिकारी के दिशा निर्देश पर कंपनी के जीएम संदीप कुमार के नेतृत्व में यूपी का पहला ट्रायल किया गया। शहर के सर्राफा बाजार चौक पर इस योजना के तहत प्रथम डिवाइस इंस्टॉल किया गया। कंपनी के जीएम संदीप कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि मुजफ्फरनगर उत्तर प्रदेश का पहला फ्री वाईफाई युक्त जिला बनने जा रहा है। पीएम वाणी योजना के तहत शहर के सभी सार्वजनिक स्थनों के अलावा हर गांव में मुफ्त इंटरनेट उपलब्ध कराया जाएगा।
ये भी पढ़ेः केंद्रीय मंत्री का दावा, कोरोना काल में मुफ्त बांटा गया 760 टन अनाज

आपको ये भी बता दें कि जैसे ही ट्रायल के लिए शहर के सर्राफा बाजार पर ये डिवाइस इंस्टॉल किया गया, वैसे ही मुफ्त में इंटरनेट पाने वालों का ट्रैफिक उमड़ पड़ा। ट्रायल पूरी तरह से सक्सेसफुल रहा और मोबाइल पर मुफ्त इंटरनेट मिलना भी शुरू हो गया। जिसकी स्पीड 50 एमबीपीएम से 65 एमबीपीएस तक रिकॉर्ड की गई। जल्द ही शहर के अन्य सार्वजनिक स्थानों पर इन डिवाइस को ट्ायल के तौर पर इंस्टॉल करने के साथ-साथ नुमाइश में इस योजना का अनावरण भी किया जाना तय है।